Adnai Wilmar: मल्टीबैगर स्टॉक अडानी विल्मर में जारी है गिरावट, उच्चतम स्तर से 34 फीसदी फिसला शेयर

[ad_1]



Adnai Wilmar Share Update: अडानी विल्मर ने 878 रुपये के उच्चतम स्तर को छूआ था. वहां से शेयर में 34% गिरावट आ चुकी है. मार्कैट कैपिटलाईजेशन घटकर 75,803 करोड़ रुपये रह गया है. 

Adnai Wilmar: मल्टीबैगर स्टॉक अडानी विल्मर में जारी है गिरावट, उच्चतम स्तर से 34 फीसदी फिसला शेयर

Adnai Wilmar Share Price: अडानी समूह ( Adani Group) मल्टीबैगर स्टॉक ( Multibagger Stock) अडानी विल्मर ( Adani Wilmar) में गिरावट का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है. मंगलवार को लगातार पांचवें ट्रेडिंग सेशन में अडानी विल्मर  ( Adani Wilmar) के शेयर में 5 फीसदी की गिरावट के साथ लोअर सर्किट देखा गया. निवेशक लगातार अडानी विल्मर के शेयर में मुनाफावसूली कर रहे हैं. 

रिकॉर्ड से 34 फीसदी टूटा शेयर
आज भी अडानी विल्मर का शेयर 5 फीसदी की गिरावट के साथ 583.25 रुपये पर किलोज हुआ है. आपको बता दें अडानी विल्मर ने 28 अप्रैल 2022 को 878 रुपये के उच्चतम स्तर को छूआ था. वहां से शेयर में 295 रुपये यानि करीब 34 फीसदी की गिरावट आ चुकी है. कंपनी का मार्कैट कैपिटलाईजेशन 1 लाख करोड़ रुपये के पार चला गया था जो घटकर 75,803 करोड़ रुपये रह गया है. 

ब्रोकरेज हाउस हैं बुलिश
हालांकि अभी भी ब्रोकरेज हाउस अडानी विल्मर के शेयर को लेकर बुलिश हैं. ब्रोकरेज फर्म KRChoksey का मामना है कि अडानी विल्मर मौजूदा स्तरों से 20 फीसदी का रिटर्न दे सकता है. ब्रोकरेज हाउस के मुताबिक अडानी विल्मर 70 फीससदी कच्चा माल आयात करता है और कंपनी दुनिया के टॉप सप्लायर से कच्चा माल के आयात करने की क्षमता रखता है. विल्मर दुनिया के सबसे बड़े पाम आयल सप्लायरों में से एक है. रिसर्च रिपोर्ट में कहा गया है कि आईपीओ  के जरिए जुटाये गए रकम से कंपनी अपने कर्ज का चुकता कर रही है. कंपनी का कैश फ्लो बढ़ा है जिससे आने वाले दिनों में कर्ज अदायगी में मदद मिलेगी और कंपनी का बैलेंसशीट मजबूत होगा. 

 

Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by Prachand.in. Publisher: ABP News

[ad_2]

Source link

Leave a Comment