Bank Of Maharashtra Aims To Increase Profits By 25 To 30 Percent In The Current Financial Year

[ad_1]

Bank of Maharashtra: सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक ऑफ महाराष्ट्र (Bank of Maharashtra) ने चालू वित्त वर्ष 2022-23 में अपने मुनाफे में 25 से 30 फीसदी की वृद्धि हासिल करने का लक्ष्य रखा है. बैंक ने कहा है कि शुद्ध ब्याज आय (NII) में बढ़ोतरी और डूबे कर्ज के लिए प्रावधान घटने से वह मुनाफे में अच्छी ग्रोथ हासिल कर पाया है. बीते वित्त वर्ष 2021-22 में बैंक ने 1,150 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ कमाया था, जो इससे पिछले वित्त वर्ष 2020-21 के 550 करोड़ रुपये के दोगुने से भी अधिक है.

कम हुआ है NPA
बैंक ऑफ महाराष्ट्र के प्रबंध निदेशक और मुख्य कार्यपालक अधिकारी (CEO) एएस राजीव ने एक इंटरव्यू में कहा है कि इस वित्त वर्ष में हमारा शुद्ध लाभ और बढ़ेगा. पिछले साल हमने संपत्ति की गुणवत्ता में सुधार के लिए परिचालन मुनाफे से अधिक प्रावधान किया था. अब हमारा NPA एक फीसदी नीचे आ गया है. इसके अलावा सकल एनपीए भी चार फीसदी से कम है.

25 से 30 फीसदी बढ़ेगा लाभ
राजीव ने कहा, ‘‘अब डूबे कर्ज के लिए और प्रावधान करने की जरूरत नहीं होगी. इससे हमारा मुनाफा अपने-आप सुधरेगा. मेरा अनुमान है कि पिछले वित्त वर्ष की तुलना में 2022-23 में हमारा शुद्ध लाभ 25 से 30 फीसदी ज्यादा रहेगा.’’

7500 करोड़ पर पहुंचने की उम्मीद
आपको बता दें शुद्ध ब्याज आय में बढ़ोतरी के बूते भी बैंक मुनाफे में बढ़ोतरी की उम्मीद कर रहा है. बैंकों द्वारा लोन पर लिए जाने वाले ब्याज और जमा पर दिए जाने वाले ब्याज का अंतर शुद्ध ब्याज आय होता है. राजीव ने कहा, ‘‘चालू वित्त वर्ष में हमें शुद्ध ब्याज आय 20 फीसदी से अधिक बढ़कर 7,500 करोड़ रुपये पर पहुंचने की उम्मीद है.’’

कैसा रहा पिछले साल हाल?
आपको बता दें बीते वित्त वर्ष में बैंक की शुद्ध ब्याज आय 23.42 फीसदी की तेजी के साथ 6,044 करोड़ रुपये रही थी. इससे पिछले वित्त वर्ष 2020-21 में यह 4,897 करोड़ रुपये थी.

यह भी पढ़ें:
Stock Market: बाजार में लगा है आपका पैसा, तो जानें क्या सेंसेक्स-निफ्टी में आएगी तेजी या जारी रहेगी गिरावट?

FPI: घरेलू मार्केट में आखिर क्यों आ रही इतनी गिरावट, जानें क्या अगले हफ्ते भी जारी रहेगा ये रुख?

[ad_2]

Source link

Leave a Comment