Gautam Adani Asias Richest Man Gautam Adani Preparing To Become Cement King Know About Adani Holcim Deal

[ad_1]

Gautam Adani New Plan: होल्सिम और उसकी सब्सिडियरी कंपनियों के पास अंबुजा सीमेंट (Ambuja) में 63.19 प्रतिशत और एसीसी (ACC) में 54.53 प्रतिशत हिस्सेदारी है. अडाणी ग्रुप ने दोनों कंपनियों में होल्सिम (Holcim) की हिस्सेदारी के लिए ये बड़ा सौदा किया है. बता दें कि अडानी के अलावा जेएसडब्ल्यू समूह (JSW Group) सहित अन्य ने भी इसे अपना बनाने में दिलचस्पी दिखाई थी.

दुनिया के टॉप-10 अरबपतियों में 7वें नंबर पर मौजूद और एशिया के सबसे अमीर व्यक्ति भारतीय उद्योगपति गौतम अडाणी ने आखिरकार सीमेंट कारोबार (Cement Business) में अपनी दमदार दस्तक दे ही दी है. दरअसल, अडाणी ने स्विट्जरलैंड के होल्सिम ग्रुप से अंबुजा और एसीसी सीमेंट कंपनियों को खरीद लिया है. यह सौदा 10.5 अरब डॉलर यानी करीब 82,000 करोड़ रुपये में हुआ है.

सबसे बड़ी डील हुई

अडानी-होल्सिम डील देश के इतिहास में इंफ्रास्ट्रक्चर और मैटेरियल सेक्टर में अब तक की सबसे बड़ी डील कही जा रही है. इसके साथ बंदरगाह से लेकर एनर्जी के क्षेत्र में अपनी बादशाहत कायम रखने वाले अडाणी समूह का सीमेंट के क्षेत्र में भी प्रवेश हो गया है. होल्सिम और उसकी सब्सिडियरी कंपनियों के पास अंबुजा सीमेंट में 63.19 प्रतिशत और एसीसी में 54.53 प्रतिशत हिस्सेदारी है. अडानी ने दोनों कंपनियों में होल्सिम की हिस्सेदारी के लिए ये बड़ा सौदा किया है.

भारत में तीन ब्रांड

कुछ समय पहले ही होल्सिम की ओर से भारत से अपना कारोबार समेटने का एलान किया था. भारत में होल्सिम कंपनी के पास तीन प्रमुख ब्रांड हैं, जिनमें अंबुजा सीमेंट, एसीसी लिमिटेड और माइसेम शामिल हैं. पिछले कुछ वर्षों में गौतम अडाणी ने बंदरगाह परिचालन, बिजली संयंत्रों और कोयला खदानों के अपने मूल कारोबार के अलावा दूसरे क्षेत्रों में भी एंट्री की है. हवाई अड्डों, डाटा केंद्रों और स्वच्छ ऊर्जा के क्षेत्र में मौजूदगी दर्ज कराने के बाद अब उन्होंने सीमेंट कारोबार में कदम आगे बढ़ा दिए हैं.

अल्ट्राटेक सीमेंट सबसे आगे

भारत में सीमेंट कारोबार की बात करें तो अभी अल्ट्राटेक सीमेंट इस क्षेत्र में पहले पायदान पर काबिज है, जबकि होल्सिम देश में दूसरे नंबर पर आती है. इसके तहत अंबुजा सीमेंट और एसीसी लिमिटेड की संयुक्त क्षमता सात करोड़ टन सालाना है. यानी गौतम अडाणी का समूह इस सौदे के बाद घरेलू सीमेंट क्षेत्र में दूसरा सबसे बड़ा कारोबारी समूह बन गया है.

उत्पादन दोगुना करने का लक्ष्य

कंपनी को खरीदने की रेस में अडाणी समूह शुरू से ही सबसे आगे रहा. अडानी के अलावा जेएसडब्ल्यू समूह सहित अन्य ने भी इसे अपना बनाने में दिलचस्पी दिखाई थी. लेकिन इस सौदे पर गौतम अडाणी ने ही पूरा किया. इस समझौते को लेकर गौतम अडाणी ने कहा है कि होल्सिम की सीमेंट कंपनियों को हमारी ग्रीन एनर्जी और लॉजिस्टिक्स को साथ मिलाने से ये हमें दुनिया की सबसे ग्रीन सीमेंट कंपनी बना देगी.

ये भी पढ़ें

LIC IPO की लिस्टिंग के साथ ही जानिए बीते 13 साल में 26 PSU के क्या रहे हाल

IPO Watch: भारतीय आईपीओ बाजार के लिए कैसी रही साल की पहली तिमाही, जानें रिपोर्ट से सामने आई क्या सच्चाई

[ad_2]

Source link

Leave a Comment