Home Loan Rate Hike: महंगे हो रहे होम लोन के बाद जानिए क्या है आपके पास विकल्प?

[ad_1]

Home Loan Rate Hike: आरबीआई (RBI) ने फिलहाल रेपो रेट ( Repo Rate) में केवल 40 बेसिस प्वाइंट की बढ़ोतरी की है. पर आने वाले समय में ब्याज दरें और बढ़ सकती है जिससे ईएमआई और महंगी होगी. 

Fixed Rate Home Loan: होम लोन ( Home Loan) पर ब्याज दरें बढ़ने का सिलसिला शुरू हो चुका है. हाउसिंग फाइनैंस कंपनियों ( Housing Finance Companies)  से लेकर बैंक ( Banks) अपने ग्राहकों को एसएमएस ( SMS) और ईमेल ( Email) के जरिए होम लोन के ब्याज दरों में बढ़ोतरी की सूचना दे रहे हैं. जाहिर है बैंकों के इस फैसले के चलते होम लोन लेने वाले ग्राहकों की ईएमआई ( EMI) महंगी हो जाएगी. बड़ा सवाल उठता है क्या ब्याज दरें इसके बाद नहीं बढ़ेंगी? तो ये कहना बेहद कठिन है. लेकिन जानकारों का मानने है कि आरबीआई (RBI) ने फिलहाल रेपो रेट ( Repo Rate) में केवल 40 बेसिस प्वाइंट की बढ़ोतरी की है. पर आने वाले समय में ब्याज दरें और बढ़ सकती है जिससे ईएमआई और महंगी होगी. 

क्या है ग्राहकों के सामने विकल्प
जब होम लोन पर ब्याज दरें बढ़ रही हों और भविष्य में और बढ़ने की संभावना हो तो कस्टमर फ्लोटिंग रेट वाले होम लोन ( Floating Rate Home Loan) को फिक्स्ड रेट वाले होम लोन ( Fixed Rate Home Loan) की तरफ शिफ्ट हो सकते हैं. इसमें ब्याज दरें बढ़ने का कोई असर नहीं होगा. हालांकि फिक्स्ड रेट वाले होम लोन पर ब्याज दरें, फ्लोटिंग रेट वाले होम लोन के ब्याज दरों के मुकाबले महंगे होते हैं. जिससे आपको ज्यादा ईएमआई चुकाना पड़ेगा. लेकिन ब्याज दरों में बदलाव का आपकी जेब पर कोई असर नहीं पड़ेगा.  

ये बैंक दे रहे फिक्स्ड रेट वाले होम लोन
एचडीएफसी बैंक  ( HDFC Bank) और एक्सिस बैंक ( Axis Bank) फिक्स्ड रेट वाले होम लोन प्रोडक्ट्स ऑफर कर रहे हैं. एचडीएफसी बैंक का फिक्स्ड रेट होम लोन पर ब्याज दरें 7.40 फीसदी से लेकर 8.20 फीसदी के बीच है जो लोन के रकम के आधार पर तय होता है. साथ ही फिक्स्ड रेट वाले होम लोन का ब्याज दर केवल 2 सालों के लिए ही मान्य होता है उसके बाद बैंक ब्याज दरें की समीक्षा करती है. एक्सिस बैंक 12 फीसदी सलाना ब्याज दर पर फिक्स्ड रेट वाले होम लोन ऑफर कर रही है. हालांकि फिक्स्ड रेट वाले होम लोन में स्वीच करने से पहले ये जरुर देख लें कि लंबे समय तक आपको महंगी ईएमआई का भुगतान करना होगा. लेकिन ब्याज दरें बढ़ने घटने का उस पर कोई असर नहीं होगा. 

 

Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by Prachand.in. Publisher: ABP News

[ad_2]

Source link

Leave a Comment