How To Make Corpus To Fund Child Medical Education, Know Here

[ad_1]

How To Do Financial Planning: अभिभावक आज के दौर में अगर किसी बात से सबसे ज्यादा परेशान है तो वो है बच्चों के महंगे हो रहे शिक्षा से. स्कूल से लेकर हायर एजुकेशन सभी महंगा होता जा रहा है. खासतौर से जो अभिभावक अपने बच्चे को डॉक्टर बनने देखना चाहते हैं उनके सामने सबसे बड़ी मुश्किल है. सरकारी मेडिकल कॉलेज में फीस कम है लेकिन वहां NEET के जरिए दाखिल मिलता है. इस परीक्षा में अच्छे नंबर नहीं आये तो सरकारी मेडिकल कॉलेज में दाखिल नहीं मिलेगा. और अगर कुछ सरकारी कॉलेज में दाखिल मिल भी गया तो वहां का इंफ्रास्ट्रक्चर का अभाव और फैकल्टी की कमी निराश कर सकती है जिसके मुकाबले निजी मेडिकल बेहतर रहेगा. 

मेडिकल की पढ़ाई बड़ी महंगी
लेकिन प्राइवेट मेडिकल कॉलेज से एमबीबीएस की पढ़ाई करना बहुत महंगा हो चुका है क्योंकि मौजूदा समय में 15 लाख से 25 लाख तक सलाना मेडिकल कॉलेज फीस वसूल रहे हैं. अगर आपका संतान छोटा है तो उसके बड़े होने पर फीस और भी महंगी हो जाएगी.  ऐसे में आपको अपने सपने को पूरा करने के लिए अभी से फाइनैंशिल प्लानिंग करनी होगी. 

म्यूचुअल फंड में अभी से निवेश कर आप बड़ा फंड बना सकते हैं जिसके जरिए अपने बच्चों को प्राइवेट मेडिकल कॉलेज में दाखिल करा सकते हैं. जानिए कितना करना होगा निवेश 

उदाहरण -1 – मान लिजिए आपके बच्चे की उम्र 6 साल है और उसके 18 वर्ष तक की आयु यानि 12 साल के लिए म्यूचुअल फंड में निवेश करने की प्लानिंग करते हैं. हर महीने 50,000 रुपये का SIP आपने 12 साल के लिए किया जो कि 12 फीसदी का सलाना रिटर्न देता है तो आपके 1.62 करोड़ रुपये का फंड आप जुटा सकते हैं. 

उदाहरण -2 – यदि आपके बच्चे की उम्र 5 साल है और आपको 15 साल के लिए मेडिकल पढ़ाई के लिए म्यूचुअल फंड में SIP करते हैं. तो 2 करोड़ रुपये का फंड जुटाने के लिए आपको अभी से हर महीने 40,000 रुपये का SIP करना होगा और सलाना 12 फीसदी का रिटर्न मिलता है तो आप 2.01 करोड़ रुपये अपने बच्चे की पढ़ाई के लिए जुटा सकते हैं. 

ये भी पढ़ें

Inflation: जानें, महंगाई के दौर में कैसे करें बचत निवेश, और कैसे घटा सकते हैं ईएमआई?

Home Loan Rate Hike: आरबीआई के Repo Rate और CRR बढ़ाने का दिखा असर, इन बैंकों ने रेपो रेट से जुड़े होम लोन को किया महंगा

[ad_2]

Source link

Leave a Comment