Indian Railways Made Record In Transportation More Freight Transportation This Year

[ad_1]

Freight loading at Record high: कोरोना महामारी (Corona Pandemic) के शुरू होने के बाद से उद्योग-धंधों पर बहुत बुरा असर पड़ा है. लेकिन, अब धीरे-धीरे कोरोना के केस कम होने और वैक्सीन के कारण अब बिजनेस वापस से पटरी पर लौट रहे हैं. ऐसे में भारतीय रेलवे (Indian Railway) में माल ढुलाई में इसका असर दिखने लगा है. साल 2021-2022 में भारतीय रेलवे ने एक नया रिकार्ड (Indian Railway New Record) बनाया है. साल 2022 के अप्रैल महीने में रेलवे ने माल ढुलाई का नया रिकार्ड बनाया है.

रेलवे ने इस साल की इतनी माल ढुलाई
रेलवे ने माल ढुलाई के आंकड़े जारी किए हैं जिसके मुताबिक इस अप्रैल 2022 तक की तारीख तक रेलवे ने 122.2 मीट्रिक टन माल ढुलाई की है. पिछले साल अप्रैल 2021 के ही महीने में 111.64 मीट्रिक टन की माल ढुलाई की थी. ऐसे में पिछले साल के मुकाबले इस साल 10.5 मीट्रिक टन की ज्यादा माल ढुलाई की है. अप्रैल 2022 तक रेलवे में  9.5 प्रतिशत माल ढुलाई का लाभ मिला है. बता दें कि 2020 के सितंबर से लगातार रेलवे के माल ढुलाई आंकड़ों में बढ़ोतरी दर्ज की गई है. इन आंकड़ों को कोरोना के बाद इकोनॉमिक आंकड़ों से जोड़कर देखा जा सकता है.

इस चीजों की माल ढुलाई में दर्ज की गई बढ़ोतरी
इस साल लोहे से बनी चीजों (Iron Material) के माल ढुलाई में कमी आई है. इसके अलावा हर चीज की माल ढुलाई में बढ़ोतरी दर्ज की गई है. रेलवे ने बताया है कि नेट टन किलोमीटर के मामले में अप्रैल 2021 के कंपेयर में 2022 में 17.7 प्रतिशत की बढ़ोतरी दर्ज की गई है.

पिछले साल यह आंकड़ा 62.6 बिलियन था जो इस साल बढ़कर 73.7 बिलियन तक पहुंच गया है. साथ ही इस साल कोयले की माल ढुलाई 5.8 मीट्रिक टन और उर्वरक में 1.3 मीट्रिक टन पिछले साल के मुकाबले दर्ज की गई है. इसके साथ ही पिछले साल हर दिन लोड किए जाने वाले वैगनों की लोडिंग की बात करें तो इसमें भी बढ़ोतरी दर्ज की गई है. पिछले साल यह 60434 था जो इस साल बढ़कर 66024 तक पहुंच गया है. इसमें कुल 9.2 प्रतिशत की बढ़ोतरी दर्ज की गई है.

ये भी पढ़ें-

PPF vs SSY: बेटी के बेहतर भविष्य के लिए सुकन्या योजना या PPF में कौन सी स्कीम है बेहतर? जानें डिटेल्स

Indian Railway: ‘श्री रामायण यात्रा’ ट्रेन के जरिए करें दो देशों का सफर, जानें यात्रा के सभी डिटेल्स

[ad_2]

Source link

Leave a Comment