LIC IPO: आपने भी लगाया है पैसा तो जानें किस दिन खाते में आएंगे शेयर्स, जानें कब होगी बाजार में लिस्टिंग?

[ad_1]

LIC IPO Allotment Date: अगर आपने भी एलआईसी के आईपीओ (LIC IPO) में पैसा लगाया है तो आपको जल्द ही पता चल जाएगा कि आपके डीमैट अकाउंट में शेयर्स आए हैं या फिर नहीं…

LIC IPO Allotment Date: अगर आपने भी एलआईसी के आईपीओ (LIC IPO) में पैसा लगाया है तो आपको जल्द ही पता चल जाएगा कि आपके डीमैट अकाउंट में शेयर्स आए हैं या फिर नहीं… 12 मई यानी गुरुवार को कंपनी निवेशकों को शेयर्स का अलॉटमेंट करेगी. इसके साथ ही 17 मई को कंपनी के शेयर्स मार्केट में लिस्ट हो जाएंगे. 

निवेशकों का मिला अच्छा सपोर्ट
निवेश एवं लोक संपत्ति प्रबंधन विभाग (DIPAM) के सचिव तुहीन कांत पांडेय ने आईपीओ सब्सक्रिप्शन के आखिरी दिन कहा कि एलआईसी के आईपीओ को सभी खंडों में निवेशकों का अच्छा सपोर्ट मिला है. उन्होंने कहा है कि घरेलू निवेशकों ने एलआईसी के आईपीओ को सफलतापूर्वक अंजाम तक पहुंचाया है. यह आत्मनिर्भर भारत का उदाहरण है. उन्होंने कहा कि अब विदेशी निवेशकों पर निर्भरता नहीं रही.

12 मई को किए जाएंगे आवंटित
आपको बता दें पांडेय ने कहा कि आईपीओ में बोलियां लगाने वालों को 12 मई को शेयर आवंटित किए जाएंगे. इसके साथ ही एलआईसी के शेयर को शेयर बाजारों में 17 मई को सूचीबद्ध किया जाएगा.

अगर आप अपने शेयर्स का स्टेटस चेक करना चाहते हैं तो BSE की ऑफिशियल वेबसाइट के जरिए चेक कर सकते हैं… आइए आपको बताते हैं कैसे-

  • आपको BSE की ऑफिशियल वेबसाइट www.bseindia.com पर जाना है.
  • यहां पर आपको ‘equity’ ऑप्शन पर क्लिक करना है.
  • अब इसको सलेक्ट करने के बाद ड्रॉपडाउन में ‘LIC IPO’ को सलेक्ट करना है.
  • अब पेज ओपन होने के बाद में आपको अपना एप्लिकेशन नंबर फिल करना होगा.
  • इसके साथ ही अपना पैन नंबर भी एंटर करना होगा.
  • इसके बाद आप ‘I am not a robot’ को वेरिफाई करें और सर्च बटन को क्लिक करें
  • अब आपको LIC IPO के शेयर्स का अलॉटमेंट दिख जाएगा

कितनी मिली बोलियां
एलआईसी के आईपीओ के तहत 16,20,78,067 शेयरों की पेशकश की गई थी. शेयर बाजारों पर उपलब्ध आंकड़ों के मुताबिक, इन शेयरों के लिए निवेशकों की तरफ से 47,83,25,760 बोलियां लगाई गईं.

1956 में हुआ था कंपनी का गठन
एलआईसी का गठन एक सितंबर, 1956 को 245 निजी जीवन बीमा कंपनियों का राष्ट्रीयकरण कर किया गया था. उस समय इसमें पांच करोड़ रुपये की पूंजी डाली गई थी. समय बीतने के साथ एलआईसी देश की सबसे बड़ी कंपनी बन चुकी है. दिसंबर, 2021 में बीमा प्रीमियम कारोबार के 61.6 फीसदी हिस्से पर इसका नियंत्रण था.

Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by Prachand.in. Publisher: ABP News

[ad_2]

Source link

Leave a Comment