LIC IPO को दूसरे दिन भी शानदार रिस्पॉन्स मिला, फुली सब्सक्राइब हुआ इश्यू; पॉलिसीधारकों का पोर्शन 3.02 गुना भरा

[ad_1]

लाइफ इंश्योरेंस कॉर्पोरेशन (LIC) का देश का अब तक का सबसे बड़ा IPO दूसरे दिन ही फुली सब्सक्राइब हो गया। अब तक 16.2 करोड़ शेयरों के ऑफर साइज के मुकाबले 16.27 करोड़ शेयरों के लिए बोलियां मिली है। पॉलिसीधारकों के लिए रिजर्व रखा गया पोर्शन 3.02…

लाइफ इंश्योरेंस कॉर्पोरेशन (LIC) का देश का अब तक का सबसे बड़ा IPO दूसरे दिन ही फुली सब्सक्राइब हो गया। अब तक 16.2 करोड़ शेयरों के ऑफर साइज के मुकाबले 16.27 करोड़ शेयरों के लिए बोलियां मिली है। पॉलिसीधारकों के लिए रिजर्व रखा गया पोर्शन 3.02 गुना, स्टाफ 2.14 गुना और रिटेल निवेशकों का 0.91 गुना हिस्सा सब्सक्राइब हुआ है। क्यूआईबी ने अपने आवंटित कोटे के 40% शेयरों के लिए बोली लगाई है जबकि NII ने अपने हिस्से के 46% शेयरों के लिए बोली लगाई है।

Portion

भारत सरकार LIC में अपनी 3.5% हिस्सेदारी बेचकर 21,000 करोड़ रुपये जुटाना चाहती है। IPO का प्राइस बैंड 902-949 रुपए है। LIC ने 2 मई को 949 रुपए के हिसाब से 59.3 मिलियन शेयर के बदले 123 एंकर निवेशकों से 5,630 करोड़ रुपए जुटाए थे। प्रमुख निवेशक, घरेलू म्यूचुअल फंड कंपनियां, घरेलू बीमा कंपनियां, कॉरपोरेट और एनपीएस है। 9 मई को इश्यू क्लोज होने के बाद 17 मई को शेयर स्टॉक एक्सचेंज पर लिस्ट होंगे। ज्यादातर मार्केट एनालिस्ट ने IPO में पैसा लगाने की सलाह दी है।

Portion

खाने के तेल के बढ़ते दामों पर लगाम लगाने के लिए पाम ऑयल पर कृषि सेस कम कर सकती है सरकार
खाने के तेल के आयात पर लगने वाले सेस में सरकार कटौती का फैसला ले सकती है जिससे इंडोनेशिया द्वारा पाम ऑयल के निर्यात पर बैन के फैसले के बाद भारत में खाने के तेल के बढ़ते दामों पर लगाम लग सके। माना जा रहा है कि आम लोगों को महंगे तेल से राहत दिलाने के लिए क्रूड पाम ऑयल पर 5% कृषि सेस को कम कर सकता है।

आपको बता दें कि कच्चे पाम तेल पर बेस इंपोर्ट ड्यूटी पहले ही खत्म की जा चुकी है। भारत अपने खपत का आधा खाने का तेल इंडोनेशिया से आयात करता है।

Portion

नहाने का साबुन और क्रीम-पाउडर हुए महंगे, हिंदुस्तान यूनिलीवर ने बढ़ाए कई प्रोडक्ट्स के दाम
भारत के सबसे बड़े FMCG ब्रांड हिंदुस्तान यूनिलीवर लिमिटेड (HUL) ने 5 मई से अपने प्रोडक्ट्स की कीमतों में 15% तक की बढ़ोतरी की है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार पिसर्य साबुन की 125 ग्राम साबुन की कीमत में 2.4% और मल्टीपैक में 3.7% की बढ़ोतरी की गई है।

लक्स साबुन की कीमत 9% बढ़ गई है। कंपनी ने सनसिल्क शैम्पू की कीमतों में भी 8 से 10 रुपए की बढ़ोतरी की है। क्लिनिक प्लस शैम्पू 100 ml की कीमत में 15% की बढ़ोतरी की गई है। साबुन और शैंपू के अलावा, स्किन क्रीम ग्लो एंड लवली की कीमत में 6-8% की बढ़ोतरी की गई है। पॉन्ड्स के टैल्कम पाउडर की कीमत में भी 5-7% की वृद्धि की गई है।

Portion

व्हीकल्स रिटेल सेल सालाना आधार पर 37% बढ़ी, अप्रैल 2022 में कुल 16.27 लाख गाड़ियां बिकीं
फेडरेशन ऑफ ऑटोमोबाइल डीलर्स एसोसिएशन (FADA) के मुताबिक, अप्रैल में कुल व्हीकल्स रिटेल सेल्स में सालाना आधार पर 37% की ग्रोथ हुई। अप्रैल 2022 में कुल व्हीकल्स रिटेल सेल्स 16.27 लाख यूनिट्स रही, जो अप्रैल 2021 में 11.87 लाख थी।

Portion

दूसरी ओर, टू-व्हीलर्स की बिक्री अप्रैल 2021 में बेचे गए 8.65 लाख व्हीकल्स से लगभग 38% बढ़कर अप्रैल 2022 में 11.94 लाख व्हीकल्स की बिक्री रही। मार्केट हिस्सेदारी 34.38% की तुलना में हीरो मोटोकॉर्प 4.10 लाख की बिक्री में एंट्री करके टू-व्हीलर्स सेल्स चार्ट में सबसे ऊपर है। यह अप्रैल 2021 में टू-व्हीलर में हुई 2.99 लाख यूनिट्स की बिक्री से भी ज्यादा है।

होंडा की सबसे ज्यादा 2.94 लाख गाड़ियां बिकीं

नोट- आंकड़े यूनिट्स में।

सोना-चांदी के दाम में शानदार तेजी, आज सोना 500 रुपए और चांदी हजार रुपए से ज्यादा महंगी हुई
आज सोना-चांदी के दाम में तेजी देखने को मिली है। इंडिया बुलियन एंड ज्वैलर्स एसोसिएशन (IBJA) की वेबसाइट के मुताबिक, सर्राफा बाजार में सोना 565 रुपए महंगा होकर 51,620 रुपए पर पहुंच गया है। अगर चांदी की बात करें तो ये 1,122 रुपए महंगी होकर 63,660 रुपए प्रति किलोग्राम पर पहुंच गई है। पूरी खबर पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

कैरेट के हिसाब से सोने की कीमत

रेपो रेट बढ़ते ही ICICI बैंक ने महंगा किया लोन, EBLR 40 बेसिस पॉइंट बढ़ाकर 8.10% की
RBI के रेपो रेट बढ़ाने के बाद निजी क्षेत्र के सबसे बड़े बैंक ICICI ने एक्सटर्नल बेंचमार्क लेंडिंग रेट में वृद्धि करने की घोषणा की है। ICICI बैंक ने एक्सटर्नल बेंचमार्क लेंडिंग रेट 40 बेसिस पॉइंट बढ़ाकर 8.10% कर दिया है।

बैंक ने कहा है कि रेपो रेट में बदलाव करने के साथ ही EBLR अब 8.10% सालाना हो गया है। ICICI बैंक के EBL रेट में की गई इस वृद्धि के बाद उसके लोन महंगे हो जाएंगे। इसका मतलब यह भी है कि ICICI बैंक अब 8.10% से कम ब्याज दर पर लोन नहीं देगा।

Portion

Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by Prachand.in. Publisher: Bhaskar News

[ad_2]

Source link

Leave a Comment