LIC IPO News: छोटे शहरों में इमोशनल जुड़ाव के चलते एलआईसी आईपीओ को लेकर हैं पॉलिसीधारकों में गजब का उत्साह

[ad_1]

<p style="text-align: justify;"><strong>LIC IPO:</strong> एलआईसी देश की सबसे बड़ी और पुरानी सरकारी बीमा कंपनी है. छोटे शहरों में खासतौर से निजी क्षेत्र के बीमा सेक्टर में कदम रखने से पहले लोग बीमा पॉलिसी नहीं लेते थे बल्कि उन्हें कहते सुना जा सकता था कि एलआईसी लिया है. इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि एलआईसी के प्रति देश के छोटे मझोले शहरों और ग्रामीण इलाकों में कितना जुड़ाव है.&nbsp;</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>एलआईसी से है इमोशल जुड़ाव</strong><br />बीते कई सालों में एलआईसी ने लोगों की गाढ़ी कमाई पर शानदार रिटर्न देने का काम किया है. जिन्हें शेयर बाजार पर भरोसा नहीं था या फिर जो शेयर बाजार में निवेश से कतराते थे वे एलआईसी में ही अपनी गाढ़ी कमाई को निवेश करते थे. यही वजह है कि एलआईसी का आईपीओ आया है तो देश के छोटे शहरों में एलआईसी के आईपीओ को लेकर लोगों में उत्साह है. एलआईसी की स्थापना 1956 में हुई थी तब बीमा क्षेत्र में केवल सरकारी कंपनियां ही हुआ करती थी. 2000 में निजी सेक्टर के लिए बीमा सेक्टर को खुला गया.&nbsp;</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>पॉलिसीधारकों में आईपीओ को लेकर उत्साह</strong><br />एलआईसी के आईपीओ को लेकर जो छोटे शहरों में जो उत्साह है उसके चलते एलआईसी के पॉलिसीधारकों के लिए जो कोटा रिजर्व है वो अब तक 2.55 गुना भर चुका है. तो कर्मचारियों का कोटा 1.74 गुना भर चुका है. रिटेल कोटा 0.77 भर चुका है. एलआईसी के आईपीओ खुलने का दूसरा दिन है. 9 मई तक रिटेल निवेशक आवेदन कर सकते हैं. तब तक माना जा रहा है कि रिटेल निवेशकों का कोटा भी कई गुना भर सकता है. आपको बता दें एलआईसी के 28 करोड़ पॉलिसीधारक हैं जिसमें से बड़ी संख्या में लोगों ने आईपीओ में आवेदन करने के लिए डिमैट अकाउंट खुलवाया है.&nbsp;</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>4 मई से रिटेल निवेशकों के लिए खुलेगा आईपीओ</strong><br />4 से 9 मई तक रिटेल निवेशकों ( Retail Investors) के सब्सक्रिप्शन के लिए एलआईसी का आईपीओ खुला रहेगा. सरकार ने एलआईसी के आईपीओ के साइज को घटाकर 21,000 करोड़ कर दिया. हालांकि इसके बावजूद एलआईसी का आईपीओ भारत के प्राइमरी मार्केट इतिहास का सबसे बड़ा आईपीओ है. एलआईसी आईपीओ का प्राइस बैंड 902 से 949 रुपये रुपये तय किया गया है. आईपीओ के जरिए 20,557 करोड़ रुपये जुटाने की योजना है.&nbsp;</p>
<p style="text-align: justify;"><br /><strong>ग्रे मार्केट में प्रीमियम पर ट्रेड कर रहा एलआईसी का शेयर</strong><br />ग्रे मार्केट में एलआईसी का आईपीओ अब डबल रेट पर ट्रेड कर रहा है. आईपीओ खुलने के पहले ही एलआईसी का शेयर अब 65 रुपये के प्रीमियम पर ट्रेड कर रहा है जो बुधवार से 5 रुपये कम है. आपको बता दें एलआईसी का प्राइस बैंड 902 से 949 रुपये प्रति शेयर तय किया गया है.&nbsp;</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>आईपीओ प्राइस पर डिस्काउंट</strong><br />एलआईसी अपने आईपीओ में निवेश करने वाले पॉलिसीधारकों को डिस्काउंट दे रही है. पॉलिसीधारकों को 60 रुपये प्रति शेयर का डिस्काउंट दिया जाएगा तो रिटेल निवेशकों और कंपनी के कर्मचारियों को 40 रुपये प्रति शेयर का डिस्काउंट मिलेगा.&nbsp;</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>कितना करना होगा निवेश?</strong><br />आपको बता दें इस आईपीओ में एलआईसी के कर्मचारी को 13,560 रुपये का मिनिमम निवेश करना होगा. वहीं, अगर पॉलिसीहोल्डर्स की बात करें तो इन लोगों को 13,335 रुपये का मिनिमम निवेश करना होगा. वहीं, अन्य निवेशकों को एलआईसी के 15 शेयर खरीदने के लिए 14,235 रुपए खर्च करने होंगे.</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>17 मई को स्टॉक एक्सचेंज पर लिस्टिंग</strong><br />कर्मचारियों के लिए 1.58 मिलियन, पॉलिसीधारकों के लिए 22.14 मिलियन और संस्थागत निवेशकों के लिए 98.83 मिलियन शेयर रिजर्व रखे गया है. 12 मई को शेयर अलॉट कर दिया जाएगा और 16 मई तक निवेशकों के डिमैट खाते में शेयर्स क्रेडिट कर दिए जायेंगे. 17 मई को एलआईसी के आईपीओ की स्टॉक एक्सचेंज पर लिस्टिंग की जाएगी.&nbsp;</p>
<p style="text-align: justify;">&nbsp;</p>
<p style="text-align: justify;">&nbsp;</p>

[ad_2]

Source link

Leave a Comment