What is the in-hand salary? अगर आपका वेतन 1 लाख हो गया तो जेब में कितना पैसा आएगा? समझिए गणित

[ad_1]

Salary Calculations: अगर आप सैलरीड क्लास हैं तो आपके लिए ये जानना जरूरी है कि आपकी कुल सैलरी पर आपकी टेक होम सैलरी या इन हैेंड सैलरी कितनी आएगी. इसके लिए आप यहां मदद ले सकते हैं.

Salary Calculations: अगर आप सैलरीड क्लास हैं तो आपके खाते में एक निश्चित राशि हर महीने आती होगी. अक्सर कई लोगों को इस बात को समझने होता है कि उनके CTC (कॉस्ट टू कंपनी) के हिसाब से उनकी टेक होम सैलरी या इन हैंड सैलरी कैसे कैलकुलेट होगी. यहां पर हम आपको इसी के बारे में जानकारी मुहैया करा रहे हैं.

सैलरी निकालने का एक फॉर्मूला होता है जिसके आधार पर हम किसी की ग्रॉस सैलरी से नेट सेलरी निकालने का तरीका जान सकते हैं. यहां आपको बताया जा रहा है कि कैसे आप अगर 1 लाख रुपये की सैलरी पाते हैं तो कितना रुपया इन हैंड सैलरी के रूप में घर ले जा सकते हैं.

सैलरी फॉर्मला-  बेसिक+एचआरए+अन्य भत्ते मिलाकर जो रकम आएगी उसमें से प्रोविडेंट फंड-इनकम टैक्स-इंश्योरेंस-टैक्स को माइनस करके जो रकम आएगी उसे आपकी इन हैंड सैलरी माना जाएगा.

अब इसे उदाहरण से समझें

1 लाख रुपये की सैलरी पर फॉर्मूले के तहत इन हैंड सैलरी इतनी बैठेगी

सैलरी या सीटीसी-1 लाख रुपये

बेसिक सैलरी- सीटीसी का 40 फीसदी = 40,000 रुपये

HRA- बेसिक का 50 फीसदी = 20,000 रुपये

अन्य अलाउंस- बेसिक का 70 फीसदी = 28,000 रुपये

कटौती- 4800 रुपये महीने वार प्रोविडेंट फंड के रूप में काटे जाएंगे = बेसिक का 12 फीसदी

वहीं इंश्योरेंस और टैक्स के रूप में संयुक्त 7200 रुपये काटे जाएंगे

इस तरह देखा जाए तो 40 हजार+20 हजार+28 हजार= 88,000 रुपये इन हैंड सैलरी के रूप में उस एंप्लाई के खाते में आ सकते हैं जिसकी मासिक तनख्वाह 1 लाख रुपये हो. 

Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by Prachand.in. Publisher: ABP News

[ad_2]

Source link

Leave a Comment